अयोध्या पहाड़: पश्चिम बंगाल (Ayodhya Hills, West Bengal)

पश्चिम बंगाल के पुरुलिया जिले में अयोध्या पहाड़ एक सुन्दर लघु पर्वतमाला है जो स्थानीय लोगों के लिए एक प्रसिद्ध पिकनिक स्पॉट भी है। यह पुरुलिया शहर से करीब चालीस किमी तथा बलरामपुर से भी इतनी ही दूरी पर स्थित है। अगर आप जमशेदपुर से जा रहे हों तो बलरामपुर होकर जा सकते हैं, बस बाघमुंडी नामक स्थान से पांच किमी पहले ही दाहिने मुड़ जाना है।

Top 4 waterfalls of Jharkhand- Hundru, Dassam, Hirni and Jonha

Hills and Valleys of Jharkhand- Parasnath, Netarhat, Dalma and Kiriburu.

Panchghagh Falls: The safest waterfall near Khunti-Ranchi in Jharkhand

इस लघु पर्वत की विशेषता यह है की यहाँ एक दिन का समय बिताने के लिए सारा कुछ मौजूद है- डैम, पहाड़, झरने, घाटियाँ सबकुछ, जो एक प्रकृति प्रेमी को चाहिए। पहाड़ की तराई में एक डैम है, चोटी पर भी एक डैम है जिन्हें क्रमशः अपर एवं लोअर डैम के नाम से जाना जाता है। दोनों के बीच की दस किमी की दूरी पहाड़ों पर बने रास्तों पर करनी पड़ती है। इन रास्तों पर बाइक दौडाने से बिलकुल वैसा ही अनुभव होता है जैसे हिमालय पर चलाने से, बस इनकी ऊंचाई हिमालय जैसी नहीं है।

Also Read:  भारत की सांस्कृतिक राजधानी की एक झलक (Glimpses of the City of Joy: Kolkata)

पहाड़ की चोटी पर पहुँचने से पहले एक बड़ा सा डैम दिखाई पड़ता है, उसके बाद नववर्ष का अवसर होने के कारण भारी भीड़ दिखती है। स्थानीय लोगों की ही भरमार है, गाँव वालो ने अपने-अपने दुकान लगा रखे हैं। पश्चिम बंगाल के ग्रामीण इलाकों में सुबह के वक़्त नाश्ते में एक चीज हर जगह आपको मिलेगी, और वो है आलुचोप के साथ मूढ़ी। वैसे मुझे भी यह बेहद पसंद रहा है। 

Also Read:  मुकुटमणिपुर बांध (Mukutmanipur Dam: Second largest earthen dam of India)

5 Must Know Secrets if you are going to book Angriya Cruise from Mumbai to Goa

Why Should You Be A Traveller

Top 5 Flight Booking Sites in India for Domestic & International flights

   

            अयोध्या पहाड़ के नजदीक एक जलप्रपात भी है लेकिन इसके लिए आपको डैम वाले पहाड़ से उतर कर एक अन्य पहाड़ पर चढ़ना पड़ेगा परन्तु उस तरफ जाने वाली सड़क बड़ी धूलभरी है। पांच-छः किमी तक किसी तरह बाइक चला हम उस प्राप्त के नजदीक आये, भीड़ तो कोई कम नहीं थी। गिरते जल की धारा देखने के लिए एक-डेढ़ सौ फीट नीचे उतरना था। खैर, यह  जलप्रपात कुछ ख़ास रास न आया।     तो फिर चलिए इन चित्रों के माध्यम से इनका भ्रमण किया जाय  ;—

Like Facebook Page: facebook.com/travelwithrd

Also Read:  आईये देखें देश का सबसे बड़ा संग्रहालय (Indian Museum, Kolkata)

Follow on Twitter: twitter.com/travelwithrd

Subscribe to my YouTube channel: YouTube.com/TravelWithRD.

email me at: travelwithrd@gmail.com