Category: Jammu & kashmir

मिशन लद्दाख-10: पेंगोंग से नुब्रा और खारदुंगला (Pangong to Nubra and Khardungla)

29 जुलाई 2016: मिशन लद्दाख का आठवां दिन। नुब्रा घाटी के रेगिस्तानी भूभाग में दो कूबड़ वाले ऊँटों को देखना आज की यात्रा का मुख्य मकसद था! पेंगोंग में एक रोमांचक वक़्त बिताने के बाद आज हमें नुब्रा घाटी के लिए निकलना था, लेकिन वहां ठहरने का कोई कार्यक्रम नहीं था, सिर्फ खारदुंगला होते हुए लेह वापस आ जाना था। पेंगोने से नुब्रा की दूरी

मिशन लद्दाख-9: चांगला से पेंगोंग (Chang La to Pangong Tso)

28 जुलाई 2016: मिशन लद्दाख का सांतवा दिन। रेंचो स्कूल में लगभग एक घंटे रुकने के बाद सुबह दस बजे के करीब हम फिर से निकल पड़े  पेंगोंग की ओर, पेंगोंग की दूरी यहाँ से करीब 135 किमी थी, और आज रात हमें वहीँ बिताना था। पेंगोंग के रास्ते फिर से एक बड़ा ऊँचा दर्रा आने वाला था जिसका नाम

मिशन लद्दाख-8: रेंचो स्कूल (Mission Ladakh-8: Rancho School)

28 जुलाई 2016: मिशन लद्दाख का सांतवा दिन। आल इज वेल! यह क्या! यह तो उस सुपरहिट फिल्म थ्री इडियट्स का सबसे प्रसिद्द संवाद है। लेकिन आज मैं इस फिल्म की चर्चा यहाँ इसलिए कर रहा हूँ, क्योंकि इस फिल्म के बहुत सारे दृश्य लद्दाख में फिल्माए गए हैं। आपको वो स्कूल जरुर याद होगा जहाँ पुनसुख वांगडू (आमिर खान)

मिशन लद्दाख-7: मैग्नेटिक हिल का रहस्य और सिंधु-जांस्कर संगम (The Mysterious Magnetic Hill & Sindhu-Janskar Confluence)

27 जुलाई 2016: मिशन लद्दाख का छठा दिन। आपलोगों ने मैग्नेटिक हिल के बारे अवश्य ही सुना होगा या टीवी चैनलों और यूट्यूब पर इसके वीडियो जरूर देखें होंगे। ढलान पर चीजों का लुढ़कना तो आम बात है, लेकिन यहाँ स्थिति ठीक इसके विपरीत है।  उन विडियो में अपने देखा होगा की किस तरह गाड़ियां एक पहाड़ के चढ़ान

मिशन लद्दाख-6: शे गुम्पा, लेह महल, शांति स्तूप और हॉल ऑफ़ फेम (Mission Ladakh: Shey Monastry, Leh Palace, Shanti Stupa and Hall of Fame)

27 जुलाई 2016: मिशन लद्दाख का छठा दिन। दोस्तों, पिछले महीनों इधर-उधर की कुछ छोटी-बड़ी यात्राओं और त्योहारों के कारण लगभग दो महीने बाद अपने ब्लॉग पर वापस आया हूँ, लद्दाख यात्रा की श्रृंखला भी इसी बीच अधूरी रह गयी। अब तक मनाली से लेह तक की बाइक यात्रा का वृत्तांत मैं पेश कर चुका था। लेह शहर की

मिशन लद्दाख-5: भरतपुर से लेह (Mission Ladakh: Bharatpur-Sarchu-Nakeela-Biskynala-Lachungla-Pang-Debring-Tanglangla-Upshi-Leh

26 जुलाई 2016: मिशन लद्दाख का पांचवा दिन। भरतपुर में किसी तरह टूटी-फूटी नींद के साथ रात गुजारकर आँख खुली तो सुबह के छह बज रहे थे। धूप भी खिल चुकी थी, फिर भी आधे घंटे तक बिस्तर पर पड़ा रहा। सभी ग्रुप वाले भी ऊँघ ही रहे थे। बाहर निकला, सिर का भारीपन अब दूर हो चुका था,