Category: Odhisa

पुरी, कोणार्क और भुबनेश्वर की एकदिवसीय त्रिकोणीय यात्रा (Puri, Konark and Bhubaneshwar)

भारत के पूर्वी घाटों में पुरी अपने सुनहरे समुद्रतटों और मंदिरों के लिए सुविख्यात है, साथ ही साथ कोणार्क का विश्वविख्यात सूर्य मंदिर और भुबनेश्वर का लिंगराज मंदिर– ये दोनों मिलकर पुरी के साथ एक त्रिभुजाकार पर्यटन पथ का निर्माण करते हैं। पुरी का जगन्नाथ मंदिर तो काफी प्रसिद्ध है ही, साथ ही इससे सम्बंधित यहाँ और भी अनेक मंदिर

चिल्का में चिलकारी: जब झील गया समंदर में मिल (Chilka Lake)

बहुत से पर्यटक पुरी आते हैं पर चिल्का नहीं आकर यहाँ के रोमांच से वंचित रह जाते हैं। मेरा मन तो पुरी जाने से पहले ही चिल्का की गहराई में डुबकी लगा रहा था। पुरी के मंदिरों में घूमने के बाद हमारा अगला पड़ाव था झीलो की रानी चिल्का में। पुरी, कोणार्क और भुबनेश्वर की

पुरी के समुद्री आहार (Puri Sea Food)

मेरी राय में इस दुनिया में मजा सिर्फ दो ही चीजो में है एक घूमना और दूसरा खाना। तो क्यों ना हम घूमने के साथ साथ खाने पे भी चर्चा करे। क्या आप इस चित्र को गौर से देख रहे हैं? अगर आप मछली खाने के शौकीन हैं तो विभिन्न प्रकार की समुद्री मछलियाँ आपको