आईये देखें देश का सबसे बड़ा संग्रहालय (Indian Museum, Kolkata)

जब भी हमें किसी एतिहासिक स्थल या अन्य किसी भी महत्वपूर्ण पर्यटन केंद्र पर जाना होता है, अक्सर हमारा सामना किसी न किसी छोटे-बड़े संग्रहालय से हो ही जाता है। एक अच्छा संग्रहालय मनुष्य जाति से जुड़े प्राचीन पहलुओं और धरोहरों को एक स्थान पर विरासत के रूप में सहेज कर रखने का कार्य करता है।

दशम जलप्रपात: झारखण्ड का एक सौंदर्य (Dassam Falls, Jharkhand)

झारखण्ड के रमणीय स्थलों की श्रृंखला में पिछली चर्चा हिरनी जलप्रपात की हुई थी।झारखण्ड का सौंदर्य चर्चा करने पर जलप्रपातों की चर्चा स्वतः हो जाती है और जलप्रपातों की चर्चा करने पर राँची के आस पास के इलाकों का चर्चा करना अनिवार्य हो जाता है। इसी सन्दर्भ में आज राँची से लगभग चालीस किलोमीटर दक्षिण

हिरनी जलप्रपात और सारंडा के जंगलों में रमणीय झारखण्ड (Hirni Falls, Jharkhand)

पिछले कुछ पोस्टों में मैंने झारखण्ड का जिक्र किया, जिनमें मैंने दलमा और पतरातू घाटी का वर्णन किया था। खनिज संसाधनों एवं प्राकृतिक नजारों से समृद्ध होने के बावजूद भी पर्यटन की दृष्टि से देशवासी इस राज्य के बारे बहुत कम ही जानते हैं, इसलिए इसके बारे कुछ न कुछ लिखते ही रहने की चेष्टा

चाईबासा का लुपुंगहुटू: पेड़ की जड़ों से निकलती गर्म जलधारा (Lupunghutu, Chaibasa: Where Water Flows From Tree-Root)

दक्षिणी झारखण्ड के पश्चिमी सिंहभूम जिले में एक छोटा सा शहर है चाईबासा। चारो ओर से हरे-भरे पेड़-पौधों से घिरा हुआ सारंडा जंगल के समीप यह एक आदिवासी बहुल इलाका है जो अपने सबसे नजदीकी बड़े शहर जमशेदपुर से 60 किलोमीटर और राज्य की राजधानी रांची से 145 किलोमीटर की दुरी पर है। विरल जनसंख्या

देखा है कभी? एक पटरी पर चलने वाली अद्भुत ट्रेन ! (Mumbai Mono Rail)

क्या आपने सिर्फ एक ही पटरी पर चलने वाली अद्भुत ट्रेन कभी देखा है? चौंक गए? लेकिन यह सच है। अब तक हम रोजाना चलने वाले साधारण पैसेंजर ट्रेन, टॉय ट्रेन, मेट्रो ट्रेन आदि के बारे सुनते आये थे। इनमे टॉय ट्रेन पहाड़ों पर चलने तथा मेट्रो ट्रेन भूमिगत (कहीं कहीं भूमि पर भी) होकर

पतरातू घाटी: झारखण्ड की एक अनोखी घाटी ( Patratu Valley, Ranchi)

ठण्ड का मौसम, सुबह की चमकती धुप, हलकी-हलकी चलती सर्द हवाएं, सर्पीले रास्ते, घाटियाँ, ऊँची-नीची पहाड़ियां, वक्रनुमा पानी का किनारा – इन शब्दों का प्रयोग मैं किसी हिमालयी क्षेत्र की ओर इशारा करने के लिए नहीं कर रहा, बल्कि अपने ही राज्य झारखण्ड के बारे बता रहा हूँ। सच तो यह है की दूर का